अपने कंप्यूटर को बनाइये तेज नए Ccleaner से





Ccleaner  एक जरुरी यूटिलिटी टूल जो आपके कंप्यूटर को तेज साफ़ और सुरक्षित बनाए रखता है अब इसका नया संस्करण उपलब्ध है कुछ नयी खूबियों के साथ ।



पिछले संस्करण में इसमें फायरफोक्स एड ऑन  को मैनेज करने की सुविधा दी गयी थी, अब इस नए संस्करण में गूगल क्रोम के एप्स और प्लग इन को नियंत्रित करने की सुविधा जोड़ी गयी है ।

 इस नए संस्करण में जो बदलाव हुए हैं वो हैं

  • Added Google Chrome Extension management.
  • Improved compatibility with Windows 8 and Windows Server 2012.
  • Improved security when managing Firefox plugins.
  • Improved internal module loading speed.
  • Added cleaning for Adobe Dreamweaver, Corel PaintShop Pro X5 and Anonymizer.
  • Improved cleaning for Microsoft Office 2010 and ImgBurn.
  • GUI navigation improvements.
  • Minor bug fixes.

सिर्फ 3.25 एमबी आकार का मुफ्त उपयोगी औज़ार .

इसे डाउनलोड करने यहाँ क्लिक करें


इस टूल से जुड़े कुछ सवाल पूछे गए थे संक्षेप में यहाँ उनके उत्तर देने का प्रयास है उम्मीद है इस टूल के नए उपयोगकर्ताओं  के लिए भी उपयोगी होगा -



पहला सवाल है क्या इस टूल को इनस्टॉल करके तुरंत ही पहले Analyze फिर  Run Cleaner बटन पर क्लिक करके अपने कंप्यूटर को क्लीन कर लेना चाहिए .

जवाब है नहीं 

इसके  कुछ विकल्प आपके लिए असुविधा पैदा कर सकते हैं जैसे  मूल सेटिंग में Empty Recycle Bin का  विकल्प चिन्हित ही रहता है जिससे जब भी आप इस टूल का उपयोग करते हैं आपका Recycle Bin भी खाली हो जाता है । मेरे विचार से आपको ये विकल्प बंद रखना चाहिए उसी तरह अगर आप इसके Applications टैब में जाए तो फ़ायरफ़ॉक्स और क्रोम ब्राउजर के विकल्प में  Session और  Internet History  को  जरुरत के हिसाब से शुरू या बंद रखें,

मेरे विचार से इन दोनों विकल्पों को बंद रखना ही उचित रहता है जैसे मैंने रखा है



ये देखें ।

इससे अगर आपका कंप्यूटर बिजली जाने या किसी अन्य वजह से इन्टरनेट पर काम करते हुए बंद हो गया हो तो अगर आप गलती से Ccleaner  चला दें तो भी  आपके वेबपेज सुरक्षित रहें ।


 अब दूसरी बात
इस टूल की सबसे बड़ी खासियत ये है की ये बड़ी आसानी से स्टार्ट अप प्रोग्राम को शुरू या बंद  करने की सुविधा देता है ।

तो ये काम किया कैसे जाए ? आइये देखते हैं

सबसे पहले तो आप ये टूल शुरू करके Tools > > Startup पर जाएँ



कुछ इस तरह से ।

यहाँ आप देख सकते हैं की सिर्फ दो ही प्रोग्राम हैं एक तो एंटी वायरस और एक अतिरिक्त प्रोग्राम ।

स्टार्ट अप प्रोग्राम जितने कम रहेंगे आपका कंप्यूटर उतनी जल्दी शुरू होगा और तेज काम भी करेगा । इसलिए इनकी संख्या कम से कम रखनी चाहिए । पर यहाँ सबसे जरुरी बात है की आपके लिए जरुरी प्रोग्राम जैसे एंटी वायरस को बंद कर देना खतरनाक हो सकता है इसलिए इन प्रोग्राम को ध्यान से बदन करें ।
इसके लिए स्टार्ट अप प्रोग्राम की सूची में (जो आपके कंप्यूटर पर अलग होगी )  किसी प्रोग्राम को चुने और बायी ओर Disable बटन पर क्लिक कर दें इसी प्रक्रिया के लिए आप Delete  बटन का भी उपयोग कर सकते हैं पर , यहाँ ध्यान दें की अगर आपने किसी जरुरी प्रग्राम को चुनकर डिलीट कर दिया तो उसे वापस लाने में आपको मुश्किल हो सकती है इसलिए Disable करें ताकि अगर जरुरत हो तो वापस उस प्रोग्राम को शुरू किया जा सके ।

इस औजार की मदद  से गैर जरुरी फाइल्स  को डिलीट करके और अनावश्यक स्टार्ट अप प्रोग्राम को बंद करके अपने कंप्यूटर को एक बार रीस्टार्ट करें आपको फर्क जरुर महसूस होगा अपने कंप्यूटर में ।








Share on Google Plus

About vishwa

    Blogger Comment
    Facebook Comment

0 comments:

Post a Comment